एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला
Up to date Tue, 12 Could 2020 11:33 AM IST

ख़बर सुनें

सुपर 30 के संस्थापक और गणितज्ञ आनंद कुमार को महामारी के बीच कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय ने छात्रों को पढ़ाने के लिए आमंत्रित किया है। बता दें कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आनंद छात्रों को संबोधित करेंगे। ध्यान दें कि कोरोना वायरस के कारण अमेरिका में 80 हजार से ज्यादा लोगों ने जान गवा दी है। इससे छात्रों का मनोबल डगमगाने लगा है।

बर्कले इंडिया के स्पीकर सीरीज के कार्यकारी उपाध्यक्ष शुभम पारेख ने सोमवार को कहा कि छात्रों को पढ़ाने के लिए कुमार की तिथि को बढ़ाकर 16 मई कर दिया है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि ये उन छात्रों के मनोबल को बढ़ावा देगा जो कोरोना महामारी के घातक प्रभाव और बढ़ती अनिश्चितता के कारण अवसाद और चिंता का सामना कर रहे हैं और इस सोच में है कि यह जानलेवा वायरस कितने समय तक चलेगा। 

कुमार को भेजे गए निमंत्रण में कहा है कि आप भारत में जन्म लिया है वहां बड़े हुए हैं। आपने सार्वजनिक शिक्षा प्रणाली की विकट स्थिति देखी है। हमने शिक्षा के माध्यम से समाज के निचले वर्गों के उत्थान के लिए आपके योगदान को समझा है। शिक्षा क्षेत्र में आपके काम को न केवल सम्मानित किया गया है बल्कि दुनिया भर में आपके काम की प्रशंसा भी की गई है और हम यूसी बर्कले के छात्रों को आपकी अमूल्य सलाह देना चाहेंगे।

सुपर 30 के संस्थापक और गणितज्ञ आनंद कुमार को महामारी के बीच कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय ने छात्रों को पढ़ाने के लिए आमंत्रित किया है। बता दें कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आनंद छात्रों को संबोधित करेंगे। ध्यान दें कि कोरोना वायरस के कारण अमेरिका में 80 हजार से ज्यादा लोगों ने जान गवा दी है। इससे छात्रों का मनोबल डगमगाने लगा है।

बर्कले इंडिया के स्पीकर सीरीज के कार्यकारी उपाध्यक्ष शुभम पारेख ने सोमवार को कहा कि छात्रों को पढ़ाने के लिए कुमार की तिथि को बढ़ाकर 16 मई कर दिया है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि ये उन छात्रों के मनोबल को बढ़ावा देगा जो कोरोना महामारी के घातक प्रभाव और बढ़ती अनिश्चितता के कारण अवसाद और चिंता का सामना कर रहे हैं और इस सोच में है कि यह जानलेवा वायरस कितने समय तक चलेगा। 

कुमार को भेजे गए निमंत्रण में कहा है कि आप भारत में जन्म लिया है वहां बड़े हुए हैं। आपने सार्वजनिक शिक्षा प्रणाली की विकट स्थिति देखी है। हमने शिक्षा के माध्यम से समाज के निचले वर्गों के उत्थान के लिए आपके योगदान को समझा है। शिक्षा क्षेत्र में आपके काम को न केवल सम्मानित किया गया है बल्कि दुनिया भर में आपके काम की प्रशंसा भी की गई है और हम यूसी बर्कले के छात्रों को आपकी अमूल्य सलाह देना चाहेंगे।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here